बाबा रामदेव दांत की दवा: बाबा रामदेव दांत दर्द की दवा | Baba Ramdev Dant Dard Ki Dawa

रामदेव बाबा दांत की दवा बताओ | पतंजलि में दांत दर्द की दवा

Baba Ramdev Dant Dard Ki Dawa
Baba Ramdev Dant Dard Ki Dawa

Baba Ramdev Dant Dard Ki Dawa: जब भी दांत में दर्द होता है, व्यक्ति कुछ भी नहीं खा सकता है। दांत दर्द के कारण यह हमेशा परेशान रहता है। यह भी संभव नहीं है कि आवर्ती दांत दर्द के उपचार के लिए, रोगी अपनी नौकरी छोड़ दे और डॉक्टर के पास जाए। इसलिए, घरेलू उपचार की आवश्यकता है। अगर आप भी परेशान हैं, तो आप दांत दर्द के लिए घरेलू उपचार आजमा सकते हैं।

Baba Ramdev Dant Dard Ka Ilaj: हालाँकि दांत दर्द एक आम समस्या है, लेकिन यह बहुत असहनीय है। कई बार दांत दर्द के कारण चेहरे पर सूजन आ जाती है। यहां तक ​​कि सिरदर्द भी हो सकता है। दांत दर्द किसी भी उम्र में हो सकता है। विशेषज्ञों के अनुसार, दांत दर्द के मामले में, किसी को पेन किलर या एंटीबायोटिक दवा खाने की बजाय तुरंत घरेलू उपचार अपनाना चाहिए।


Baba Ramdev Dant Dard Ki Dawa और दांत का दर्द क्या है?

आयुर्वेद के अनुसार, दांत दर्द वात दोष के कारण होता है। आहार में सुधार, स्वच्छता और घरेलू उपचार दांत दर्द से राहत दिला सकते हैं।

इसे भी पढ़िए: 5 Ayurvedic Health Tips in Hindi

Baba Ramdev Dant Dard Ki Dawa और दांत दर्द के प्रकार?

  • दांत दर्द दो तरह के होते हैं
  • दांतों में तेज दर्द होता है, जिसे शार्प टूथ पेन कहा जाता है। कुछ खाते समय, या बात करते समय यह बहुत तेजी से होता है।
  • इसमें दर्द गर्म या ठंडा खाना खाने के कारण होता है। इस दर्द को Dull Tooth Pain भी कहा जाता है। यह हल्का है और लंबे समय तक रहता है।
 
इसे भी पढ़िए: Benefits of Ginger Garlic Onion in Hindi

Baba Ramdev Dant Dard Ki Dawa और दांत दर्द के कारण

  • ये दांतों में दर्द के कारण हो सकते हैं
  • स्वस्थ दांतों के लिए दांतों की देखभाल करना महत्वपूर्ण है। अगर दांतों की देखभाल न की जाए, तो दांतों में कीड़े लगने का डर रहता है। इससे दांतों में कैविटी हो जाती है। इससे दांत दर्द होता है।
  • दांतों की कमजोर जड़ें। गलत तरीके से दांत साफ करने से दांतों की जड़ें कमजोर हो जाती हैं। इससे दांत दर्द होता है।
  • दांत टूटने से भी दांत दर्द होता है।
  • बुद्धि दांत के निकास के दौरान दांतों में असहनीय दर्द होता है।
  • ज्यादा मीठा खाने से भी दांत दर्द होता है। शक्कर खाने के बाद, भोजन के अंश दांतों और मसूड़ों में बने रहते हैं। ये कीटाणु एसिड का उत्पादन करते हैं, जो दांतों को नुकसान पहुंचाते हैं। यह संक्रमण दांतों की जड़ों तक पहुंचकर दांत दर्द का कारण बनता है।
  • कैल्शियम की कमी के कारण दांत कमजोर हो जाते हैं जिसके कारण दांतों में दर्द होता है।
  • दांतों में बैक्टीरिया के संक्रमण के कारण दर्द होता है।

छोटे बच्चों में दांत दर्द के कारण (Causes of Dental Pain in Children in Hindi)

छोटे बच्चों में दांत दर्द की समस्या अक्सर देखी जाती है। बच्चों को अधिक मीठा खाने और दांतों को साफ न रखने के कारण बैक्टीरिया के संक्रमण का खतरा अधिक होता है। इसके कारण उनके दांतों में कैविटी बन जाती है। इसके कारण दर्द होता है।

अक्ल दाढ़ क्या है?
बुद्धि दांत आमतौर पर 17 और 25 साल के बीच होता है। कई लोगों में यह 25 साल बाद भी आता है। वे बहुत मजबूत हैं। ये दांत आखिरी में आते हैं, इसलिए जब उन्हें जगह नहीं मिलती है, तो वे मसूड़ों और दांतों पर दबाव डालते हैं। इससे असहनीय दर्द होता है। एक दाढ़ का दर्द लगभग एक से दो दिन तक रहता है, या कभी-कभी तीन दिन भी होता है।

तेज दर्द के साथ-साथ सिरदर्द भी हो सकता है। व्यक्ति को भोजन चबाने में कठिनाई होती है। मसूड़ों में सूजन है। अचानक दाढ़ दर्द कभी-कभी अचानक होता है। कभी-कभी यह दर्द (Dant me dard) धीरे-धीरे और आराम से होता है। इसलिए, हर 6 महीने में, डेंटिस्ट के पास जाकर इस समस्या का पहले ही पता लगाया जा सकता है।

इसे भी पढ़िए: Benefits of Garlic for Male in Hindi

Baba Ramdev Dant Dard Ki Dawa और दांत दर्द का घरेलू उपचार

एलोपैथिक उपचार में, केवल दांत दर्द (डेंट मी डार्ड) को कुछ समय के लिए दबा दिया जाता है, और इसके लिए पेन किलर, एनाल्जेसिक या एंटीबायोटिक का उपयोग कहा जाता है। एलोपैथिक दवाओं से शरीर में साइड-इफेक्ट्स का भी खतरा रहता है। इसके बजाय, दांत दर्द में तुरंत राहत पाने के लिए, घरेलू उपचार (Dant Dard Ke Gharelu Upay) को अपनाना फायदेमंद है, जो हैं: -

बाबा रामदेव दांत दर्द की दवा लौंग

दांत के नीचे एक लौंग दबाने से दांत दर्द में तुरंत राहत मिलती है। दर्द से राहत दिलाने में भी लौंग का तेल कारगर है।

बाबा रामदेव दांत दर्द की दवा लहसुन

दांत दर्द होने पर लहसुन चबाएं। इसमें मौजूद एलिसिन एक प्राकृतिक जीवाणुरोधी एजेंट है। यह दांत दर्द को खत्म करता है।

इसे भी पढ़िए: Medohar Vati Patanjali Benefits in Hindi

बाबा रामदेव दांत दर्द की दवा हींग

एक चुटकी हींग को नींबू के रस में मिलाकर रुई में लगाएं। इसे दांत दर्द के पास रखें। दांत दर्द से तुरंत राहत पाने के लिए यह सबसे अच्छा घरेलू उपाय है।

बाबा रामदेव दांत दर्द की दवा हल्दी

हल्दी एक प्राकृतिक एंटीबायोटिक है। हल्दी, नमक और सरसों के तेल का पेस्ट दांतों पर लगाना चाहिए। यह एक दांत दर्द की तरह जल्दी से काम करता है और दर्द से तुरंत राहत प्रदान करता है।


आलू का दांतों के दर्द के इलाज के लिए घरेलू उपचार

आलू को छोटे टुकड़ों में काट लें और उन्हें कच्चा चबाएं। यह कुछ समय में दांत के दर्द (Dant me dard) से राहत देता है।

दांत दर्द में प्याज के फायदे (Onion: Home Remedies for Dental Pain Treatment in Hindi)

प्याज अपने गुणों के कारण मुंह के जीवाणुओं और जीवाणुओं को नष्ट करते हैं। अगर आपको दांत में दर्द है, तो दांत के पास प्याज का एक टुकड़ा रखें, या इसे चबाएं।

बाबा रामदेव दांत दर्द की दवा बेकिंग सोडा

पानी में कपास डालो और इसे निचोड़ें। इसमें बेकिंग सोडा छिड़कें, फिर इसे दांतों पर अच्छी तरह मलें। इसके अलावा, गुनगुने पानी में बेकिंग सोडा मिलाएं और इससे कुल्ला करें। अगर आपको दांत दर्द है, तो दवा खाने के बजाय पहले इस घरेलू उपाय को आजमाएं, इससे दांत दर्द में तुरंत राहत मिलती है।

इसे भी पढ़िए: Pudina Khane Ke 10 Fayde Aur Nuksan

काली मिर्च से दांत दर्द का इलाज करने के लिए घरेलू उपचार

ठंड और गर्म दांतों के कारण होने वाले दर्द के लिए, काली मिर्च पाउडर और नमक को बराबर मात्रा में मिलाएं। इसमें कुछ बूंदें पानी की मिलाकर पेस्ट बना लें। इसे दर्द वाले स्थान पर लगाएं और कुछ मिनट के लिए छोड़ दें। ऐसा करने से दांत दर्द जल्दी ठीक होता है।

इसे भी पढ़िए: Adrak Khane Ke Fayde Aur Nuksan in Urdu


आपको हमारा ये Baba Ramdev Dant Dard Ki Dawa आर्टिकल कैसा लगा कॉमेंट करके जरूर बताये और आपके कुछ सवाल जवाब जरूर कॉमेंट करके बताये आपकी एक कॉमेंट हमे आपके सवाल पे आर्टिकल लिखने के लिये उत्साहित करती है

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ